अधिकांश लोगों को नहीं पता होगा कि स्पेस स्टेशन पर एकत्रित होने वाले कचरे को  धरती पर कैसे भेजा जाता है?

क्या आप जानते हैं स्पेस स्टेशन से कचरा धरती पर कैसे भेजा जाता है? 

अंतरराष्ट्रीय स्पेश स्टेशन पर ज्यादातर समय 6 से 8 अंतरिक्ष यात्री हर समय मौजूद रहते हैं।                                .

यह अंतरिक्ष यात्री यहां काम करते हैं, अंतरिक्ष स्टेशन की मरमत करते हैं और खाते पीते रहते हैं।                      .

जहां व्यक्ति रहता है और खाता पीता तथा काम करता है वहां कचरा अवश्य इकट्ठा हो जाता है तो अंतरिक्ष स्टेशन पर भी कचरा इकट्ठा होता होगा।

अंतरिक्ष स्टेशन से यह कचरा धरती तक कैसे भेजा जाता है? कचरा प्रबंधन का काम अंतरिक्ष स्टेशन में भी किया जाता है। 

यह कचरा जब अंतरिक्ष यान सामान देकर वापस आता है तो उसके साथ वापस धरती पर भेज दिया जाता है।                  .                               .

लेकिन अब अंतरिक्ष यात्रियों को स्पेस स्टेशन में कचरा प्रबंधन का एक नया हथियार मिल गया है।                           .

कचरे को धरती पर भेजने के लिए अब एक खास बैग का इस्तेमाल किया जाता है।                                            .

कचरे को इस खास किस्म के बैग में डालकर तेज गति से धरती की तरफ छोड़ दिया जाता है।                          .

नैनो रेक्स नाम की कंपनी ने पहली बार इस कचरा बैग में कचरा रखकर ट्रायल के तौर पर अंतरिक्ष स्टेशन से धरती की तरफ भेजा है।

कार्गो शिप से कचरा वापस धरती पर भेजने पर अत्यधिक खर्च आता है लेकिन एक बार यह ट्रेसबैक ऊपर पहुंच जाने के बाद इसमें कचरा रखकर वापस पृथ्वी की तरफ फेंक दिया जाता है।

वैज्ञानिक इस कचरे के बैग कि पृथ्वी के वायुमंडल में आने की प्रतीक्षा कर रहे हैं। उन्होंने अभी यह नहीं बताया है कि यह कब तक वायुमंडल में आ जाएगा।